soical: मोहम्मद आमिर ने भारत के टॉप ऑर्डर के तीनों बल्लेबाज़ों को सस्ते में चलता कर दिया था. इसी का नतीजा रहा कि भारत को 180 रन से हार का सामना करना पड़ा.

पाकिस्तान ने भारत को 339 रन का लक्ष्य दिया था. भारत ने रविवार को इंग्लैंड के ओवल मैदान में इस लक्ष्य को हासिल करने के लिए खेलना शुरू किया तो 33 रन पर ही तीन विकेट गिर गए. कुछ ही देर में 54 रन पर पांच विकेट हो गए. इससे पहले भारत ने पाकिस्तान को 124 रनों से हराया था.

इस अहम टूर्नामेंट में मोहम्मद आमिर किसी हीरो की तरह उभरकर सामने आए हैं. फ़ाइनल से पहले मोहम्मद आमिर के खेलने को लेकर स्थिति साफ़ नहीं थी. पाकिस्तान के कोच मिकी ऑर्थर ने शनिवार को इस बात की पुष्टि की मोहम्मद आमिर फ़ाइन में भारत के ख़िलाफ़ खेलेंगे

फिटनेस टेस्ट में फेल होने के कारण आमिर सेमीफ़ाइनल में इंग्लैंड के ख़िलाफ़ नहीं खेल पाए थे.

ख़तरनाक गेंदबाज़ी करने वाले मोहम्मद आमिर पर 2010 में आईसीसी ने पांच सालों के लिए प्रतिबंध लगा दिया था. 2010 का वह स्पोट-फिक्सिंग स्कैंडल काफ़ी चर्चित रहा था.

इग्लैंड के साथ टेस्ट मैच के दौरान ये आरोप लगा था कि पाकिस्तानी खिलाड़ियों ने सट्टेबाज मज़हर माजीद से रिश्वत ली थी और इसके मैच बाद जानबूझर मैच हारा था.

इंग्लैंड के साथ इस टेस्ट सिरीज़ में आमिर के साथ मोहम्मद आसिफ और सलमान बट को फिक्सिंग में दोषी पाया गया था. इन्हें इस मामले में गिरफ़्तार किया गया था और इन पर तत्काल प्रतिबंध लगा दिया गया था.

हालांकि इस मामले में मोहम्मद आमिर क्रिकेट की दुनिया में फिर से वापसी करने में कामयाब रहे लेकिन सलमान बट और मोहम्मद आसिफ आज भी बाहर हैं.

मोहम्मद आमिर की वापसी के बाद क्रिकेट की दुनिया में काफ़ी हलचल रही थी. आमिर ने जनवरी 2016 में वापसी की थी. महान क्रिकेट सचिन तेंडुलकर भी आमिर की प्रतिभा के कायल रहे हैं.

आमिर की वापसी के बाद ब्रिटिश मीडिया ने काफ़ी सवाल खड़े किए थे.

हालांकि उस वक़्त सचिन ने आमिर का समर्थन किया था. सचिन ने ईएसपीएन क्रिकइंफो से कहा था, ”आमिर के पास स्किल है. अगर वह फिर से धुन हासिल करने में सफल रहता है तो कुछ ख़ास करेगा. उसे जो सज़ा मिली उसने काट ली है. ऐसे में वह अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में वापसी कर रहा है तो कोई समस्या नहीं है.”

सचिन ने कहा था, ”मेरा मानना है कि आपने सज़ा देने का फ़ैसला किया और सज़ा दे दी. उसने अब सज़ा काट ली ही है ऐसे में उसके खेलने पर कोई आपत्ति नहीं होनी चाहिए.”

मोहम्मद आमिर की प्रतिभा को स्पेस देने में पूर्व पाकिस्तानी कप्तान वसीम अकरम को श्रेय दिया जाता है. 2007-2008 में आमिर पाकिस्तान में एक प्रतिभाशाली युवा गेंदबाज़ के तौर पर उभर रहे थे. आमिर की गेंदबाज़ी की तुलना लोग वसीम अकरम से करते हैं. 2010 तक आमिर एक शानदार गेंदबाज़ के रूप में स्थापित हो चुके थे.

मोहम्मद आमिर के साथ ख़ास बात यह है कि वह 145 से 150 की स्पीड के साथ गेंद को स्विंग भी कराते हैं. यदि किसी टीम के टॉप ऑर्डर की कमर तोड़नी है तो आमिर बख़ूबी अपनी भूमिका निभाते हैं.

आमिर ने 2009 में पाकिस्तान के घरेलू क्रिकेट में ही अपनी छाप छोड़ दी थी.

मोहम्मद आमिर ने कुल 36 वनडे मैचे खेले हैं और उन्होंने 55 विकेट लिए हैं. उन्होंने कुल 28 टेस्ट मैच खेले हैं और इनमें 94 विकेट झटके. 25 साल के आमिर बाएं हाथ से बल्लेबाज़ी और गेंदबाज़ी करते हैं. मोहम्मद आमिर का जन्म 13 अप्रैल 1992 को पाकिस्तान में पंजाब के गुजर ख़ान में हुआ था.

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *