ब्रेकिंग कुशीनगर :- आखिर क्यों SO विशुनपुरा ने कहाँ महिलाओ के लिए कोई जगह नही थाने में

पुलिस अधिक्षक महोदय कृपया ध्यान दें इधर भी।*

Breaking News

*क्या महिलाओ को इंसाफ का हक नही ?*

*आखिर क्यों SO विशुनपुरा ने कहाँ महिलाओ के लिए कोई जगह नही थाने में ?*

*आखिर कब तक देनी होगी महिलाओ को अग्नि परीक्षा ?*

*पुलिस क्यों नही देनी चाहती महिलाओ को इंसाफ आखिर क्यों नही हो पाती महिला उत्पीड़न जैसे संगीन आरोपियों की धर पकड़ ?*

विशुनपुरा थाना जनपद कुशीनगर।
नई नई ब्याह कर आई महिला के साथ ससुर भसुर पर योन उत्पीड़न का समाचार प्रकाश में आया है। मिली जानकारी के अनुशार थाना विशुनपुरा क्षेत्र अंतर्गत ग्रामसभा पडरौन मडूरही की रहने वाली महिला का आरोप है की मुझे 10 माह हो गया ससुराल आये हुए लेकिन ससुराल वालो को दहेज न मिलने काफी रोष ब्याप्त था और इसी वजह से मेरे पति को मुझसे दूर कर दिया गया और भसुर द्वारा मेरे प्रति गलत मंसा से मुझ पर कई बार प्रताणित किया गया की किसी तरह अपने आप लड़की घर से भाग जाए लेकिन लाख परेशानियो के बाद भी लड़की की पति ब्रता नही टूटी अभी कुछ दिन पहले लड़की के ससुर दारु के नशे में लड़की के अंदरुनी अंगो के साथ छेड़छाड़ करने लगा तो लड़की भाग कर अपने सांस से आप बीती बताई लेकिन सांस ने लड़की को मार पिट कर घर में कैद कर दिया और तिन दिन तक खाना पानी बन्द कर दिया लड़की तिन दिन बाद घर में किसी को न देख कर भाग कर स्थानीय थाना विशुनपुरा पहुच कर आप बीती बताई लेकिन SO साहब को ऐसे वारदातो का तो बेसब्री से इन्तजार होता है की मोटी रकम मिले और आरोपी पैसे वाला हो तो मानो( जैसे सोने पर सुहागा ) और SO विशुनपुरा ने लड़की सुबह से शाम तक थाने पर बैठाया लेकिन कोई कार्यवाही नही की क्यों आरोपियों इस काम को अंजाम देने के लिए पुलिस पहले मैनेज थी लड़की शाम को थाने घर आयी तो देखी घर में ताला बन्द है तो घर के बाहर ही दुपट्टा विछा कर रात बिताई दिनांक 31 अक्टूबर को बाहर के लड़को को पैसा देकर लड़की की इज्जत लुटवानी चाही परंतु जिसको राखे सांईया मार सके ना कोई अपना इज्जत बचाने के लड़की भाग कर अपने पड़ोसियों के घर चली गई अगले दिन थाने पहुची जहां SO विशुनपुरा ने कई पत्रकारो के सामने लड़की को बुरा भला कहाँ और लड़की कोर्ट जाने का कह कर थाने से भगा दिया लड़की हिम्मत नही हारी और पुनः श्रीमान पुलिस अधिक्षक महोदय को ज्ञापन देने दिनांक 4 नवम्बर कार्यालय पहुची छुट्टी होने के कारण वहां प्रार्थना पत्र नही दे पायी और अपना प्रार्थना पत्र सभी मिडिया कार्यालयों में जमा कर घर लौटी लड़की का मानना है की उक्त प्रकरण जैसे गम्भीर मामले में सिर्फ मिडिया से ही भला हो सकता है क्यों की लड़की ने पुलिस विभाग को बड़े ही नजदीकी से देखा है।
अब देखना यह है की महिला को इंसाफ मिलती है की नही देखना यह भी है की *योगी सरकार* इस मामले को कितनी गम्भीरता से लेती है या नही।

    *ब्यूरो रिपोर्ट कुशीनगर*

      न्यूज24I मोहम्मद आसिफ

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *