बी0 जे0 पी0 नेता की दबंगई, पुलिस से बदसलूकी करने वाले बेटे को जबरन हिरासत से छुड़ाले गया

उत्तर प्र्देश  के सीएम योगी आदित्यनाथ सूबे की कानून-व्यवस्था सुधारने की सौगंध के साथ गद्दीनशीं हुए थे. उन्होंने कानून ना मानने वालों को यूपी छोड़कर जाने तक को कह डाला था. लेकिन ऐसा लगता है उनकी अपनी पार्टी के नेताओं पर इस चेतावनी का कोई असर नहीं हुआ.

 जब बाप हैं  नेता तो डर किस बात की  का..
मेरठ में पुलिस को बीजेपी नेता संजय त्यागी और उनके बेटे की दबंगई का सामना करना पड़ा. शनिवार देर शाम अंकित त्यागी अपनी कार से दिल्ली जा रहा था. परतापुर इलाके में पुलिस ने उसे चेकिंग के दौरान रोका. पुलिसवालों ने उसे गाड़ी से हूटर और शीशों में लगी काली फिल्म हटाने को कहा. लेकिन नेताजी के सुपुत्र को ये बर्दाश्त नहीं हुआ. उसने पुलिसवालों को 24 घंटे में वर्दी उतरवाने की धमकी दी. जब पुलिस ने अंकित को थाने ले जाने की कोशिश की तो पहले उसने इंस्पेक्टर के साथ हाथापाई की और बाद में पिता को फोन मिला दिया.
चोटे मिया चोटे मिया बडे मिया सुभान अल्लाह 
बेटे की कॉल पर संजय त्यागी समर्थकों के साथ मौके पर पहुंचे. जिस वक्त पुलिस अंकित को जीप में बिठाकर मेडिकल टेस्ट के लिए ले जा रही थी, संजय त्यागी ने उसे जबरदस्ती गाड़ी से उतारने की कोशिश की. पुलिस ने रोका तो त्यागी और उनके समर्थकों ने इंस्पेक्टर और एसआई की वर्दी नोच डाली.

थाने में भी  हंगामा
इसके बाद अंकित को थाने ले जाया गया. लेकिन बवाल यहां भी जारी रहा. बीजेपी कार्यकर्ता पुलिस स्टेशन के बाहर नारेबाजी करने लगे. बात पुलिस के आला अधिकारियों तक पहुंची तो मामले को सुलझाने की कोशिश होने लगी. आखिरकार पुलिस को अंकित त्यागी को छोड़ना पड़ा. संजय त्यागी का आरोप है कि पुलिस ने उनके और अंकित के साथ बदसलूकी की. हालांकि तस्वीरें कुछ और ही कहानी बयां करती हैं.

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *