उत्तर प्रदेश के रामपुर मे छेड़छाड़ मामला: पुलिस के हत्थे चढ़े चार मुख्य आरोपी, 14 पर है मुकदमा

रामपुर: उत्तर प्रदेश के रामपुर जिले में सरेआम दो लड़कियों से छेड़छाड़ करने और वीडियो बनाने के आरोप में चार मुख्य आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है. हालांकि मामले में 14 युवकों को आरोपी बनाया गया है. पुलिस की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि बाकी के 10 आरोपियों की तलाश की जा रही है. रविवार को सोशल मीडिया पर वायरल हुए एक वीडियो में कुछ लड़के दो लड़कियों के साथ छेड़खानी और बदसलूकी कर रहे थे. लड़कियां मनचलों से इज्जत की भीख मांग रही थीं, लेकिन वे आदत से बाज नहीं आ रहे थे. वीडियो में साफ तौर से दिख रहा था कि मनचले लड़कियों के साथ अश्लीलता की हदें पार कर रहे थे. दोनों लड़कियां रोती हुई दिख रहीं थीं. वे मनचलों के चंगुल से खुद को बचाने की कोशिश कर रही थीं, लेकिन वे रहम नहीं कर रहे थे. सोशल मीडिया पर वीडियो के वायरल होने पर पुलिस हरकत में आई और आला अधिकारियों ने फौरन कार्रवाई के आदेश दिए.

पीड़ित लड़कियां टांडा के कुआंखेड़ा में शनिवार शाम बारात में आई थीं. वे कुछ काम से कहीं जा रही थीं, तभी मनचलों ने उन्हें घेर लिया और बदसलूकी शुरू कर दी. उनमें से एक उन लड़कियों को अपने साथ उठाकर ले जाने की कोशिश भी की. इस घटना के बाद से दोनों लड़कियां सदमे में हैं. उनके परिवार के लोग भी काफी डरे हुए हैं.

पुलिस ने दो आरोपियों को रविवार शाम को ही गिरफ्तार कर लिया था. सोमवार को पुलिस की ओर से जारी बयान में कहा गया कि चार मुख्य आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है. यहां गौर करने वाली बात यह है कि उत्तर प्रदेश में छेड़खानी की घटनाओं को रोकने के लिए योगी आदित्यनाथ की अगुवाई वाली बीजेपी सरकार ने एंटी रोमियो स्क्वायड का गठन किया है, लेकिन इस घटना के बाद लगता है कि मनचलों के मन में इस स्क्वायड का भी डर नहीं है.

छेड़खानी पर आजम खान का बेतुका बयान

रामपुर जिले में दो लड़कियों के साथ छेड़खानी की घटना पर समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता और पूर्व मंत्री आजम खान ने बेतुका बयान दिया है. उन्होंने कहा कि रेप और छेड़छाड़ से बचने के लिए महिलाओं को घरों में ही रहना चाहिए. लड़कियों को ऐसी जगहों पर नहीं जाना चाहिए, जहां बेशर्मी का नंगा नाच हो रहा हो.

आजम खान ने कहा, ‘पिछले दिनों लगातार महिलाओं के साथ छेड़छाड़ एवं अभद्रता, लूट, डकैती और हत्या की घटना हुई है. विधानसभा चुनावों से पहले मैंने लोगों से आग्रह किया था कि सपा की कानून-व्यवस्था की स्थिति को दिमाग में रखें। मैंने कहा था कि यदि बीजेपी को मौका दिया गया तो कानून-व्यवस्था की स्थिति खराब हो जाएगी.’ उन्होंने आरोप लगाया कि जबसे भाजपा सत्ता में आई है तबसे उत्तर प्रदेश में महिलाएं सुरक्षित नहीं रह गई हैं.

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *