उत्तर प्रदेश:- की ‘लेडी सिंघम’ को मिला ट्रांसफर लेटर, तो बोलीं- ‘चिराग जहां जाएगा, रोशनी लुटाएगा…’

:-पिछले महीने उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर में ट्रैफिक नियम तोड़ने पर बीजेपी नेता का चालान करने वाली महिला पुलिस अधिकारी का तबादला कर दिया गया है. तबादले पर उन्होंने फ़ेसबुक पोस्ट किया है, जिसमें उन्होंने एक शेर के ज़रिए अपनी बात रखी है. एएस ठाकुर नाम के अकाउंट पर उन्होंने लिखा है कि ‘जहां भी जाएगा, रोशनी लुटाएगा, किसी चराग का अपना मकां नहीं होता,’ उन्होंने लिखा है कि मेरा ट्रांसफ़र बहराइच हो गया है. ये नेपाल की सीमा से सटा हुआ इलाक़ा है. मेरे मित्र आप परेशान न हों, मैं ख़ुश हूं. मैं इसे अपने अच्छे काम का इनाम समझती हूं. आप सभी लोग बहराइच आमंत्रित हैं. हालांकि उनका यह वैरिफाइड अकाउंट नहीं है.

गौरतलब है कि बुलंदशहर के स्याना में सीओ के पद पर तैनात श्रेष्ठा सिंह को अब बहराइच भेज दिया गया है. बीजेपी नेता की धमकी के बाद भी उन पर कानून का डंडा चलाने वाली महिला पुलिस ऑफिसर का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ था, लोग इन्हें ‘लेडी सिंघम’ जैसी उपाधी से संबोधित कर रहे थे. वायरल वीडियो में श्रेष्ठा सिंह बीजेपी नेता को यह भी बताती दिखी थीं कि कानून से ऊपर कोई नहीं है. नियम-कानून तोड़ने पर वह सबके खिलाफ एक समान एक्शन लेंगी. बीजेपी नेता के बदसलूकी करने पर महिला अफसर ने उन्हें हद में रहने तक की हिदायत भी दी थीं

इसी साल 23 जून को स्याना में चेकिंग के दौरान जब जिला पंचायत सदस्या प्रवेश देवी के पति प्रमोद लोधी को पुलिस ने बिना हेलमेट और बिना कागजात के बाइक चलाते पकड़ा और चालान किया तो वह सीओ स्याना श्रेष्ठा सिंह से ही भिड़ गए. प्रमोद लोधी ने सीओ से भी अभद्रता की, जिसके बाद उनके खिलाफ सरकारी कार्य में बाधा डालने के मामले में एफआईआर दर्ज कराकर गिरफ्तार कर लिया गया.

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *